तुम्हें सच्चे जिज्ञासुओं को क्रियायोग के माध्यम से आध्यात्मिक दिलासा देने के लिए चुना गया है।

— लाहिड़ी महाशय से महावतार बाबाजी (योगी कथामृत)

वाईएसएस संन्यासियों द्वारा, 30 सितम्बर को, श्री श्री लाहिड़ी महाशय के आविर्भाव दिवस के उपलक्ष्य में, दो विशेष ध्यान-सत्रों का संचालन किया गया। ये ध्यान-सत्र अंग्रेज़ी व् हिंदी में संचालित किये गये।