9 अक्टूबर को शाम 6:30 – 7:30 बजे (भारतीय समयानुसार), एक वाईएसएस संन्यासी द्वारा परमहंस योगानन्दजी की “आदर्श-जीवन” की शिक्षाओं पर आधारित एक सत्संग दिया गया जिसका विषय था  “जीवन का लक्ष्य और उसकी प्राप्ति: कैवल्य दर्शनम्  पर आधारित एक सत्संग।”

अपनी प्रति प्राप्त करें !

आप “कैवल्य दर्शनम्” की एक प्रति भी प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए कृपया यहाँ क्लिक कर हमारे ऑनलाइन बुकस्टोर पर जाएँ।