नवागुंतकों के लिए वाईएसएस संन्यासी द्वारा एक निर्देशित ध्यान-सत्र और प्रेरणादायक सत्संग आयोजित किया गया था। दोनों कार्यक्रम हिंदी में हुए।

इस सत्संग का विषय था : “क्रियायोग के अभ्यास द्वारा अपने जीवन को सामंजस्यपूर्ण और संतुलित बनाना”।